एयर मार्शल आरजे डकवर्थ

प्रयागराजः एयर मार्शल आरजे डकवर्थ ने गुरुवार को यहां मध्य वायु कमान सेंट्रल एयर कमांड में वायु अफसर कमांडिंग-इन-चीफ का पदभार संभाल लिया. उनकी इस पद पर तैनाती तीन जून को की गई थी. लगभग 38 वर्षों के सेवाकाल के दौरान एयर मार्शल को 3000 घंटों से भी अधिक अवधि तक उड़ान भरने की महारत हासिल है.

एयर मार्शल आरजे डकवर्थ ने भारतीय वायु सेना की लड़ाकू शाखा में 28 मई 1983 को कमीशन प्राप्त किया। वह फ्रंटलाइन फाइटर स्क्वाड्रन के कमांडिंग अफसर रह चुके हैं. इसके साथ ही प्रीमियर फाइटर बेस की भी कमान संभाली है. प्रयागराज में वर्तमान पदभार ग्रहण करने से पूर्व वह वायु सेना मुख्यालय में वायु अफसर प्रभारी थे. उनकी सेवाओं को ध्यान में रखते हुए उन्हें 2008 में विशिष्ट सेवा मेडल और फिर उसके बाद 2021 में अति विशिष्ट सेवा मेडल से अलंकृत किया गया है.

एयर मार्शल आरजे डकवर्थ ने इससे पहले भी पश्चिमी वायुकमान मुख्यालय में वरिष्ठ एयर स्टाफ ऑफिसर के रूपमें पदभार संभाला था. इन्हें विभिन्न लड़ाकू और प्रशिक्षक विमानों को उड़ाने का 3000 घंटे से अधिक का अनुभव है और एक योग्य उड़ान प्रशिक्षक हैं. उन्होंने प्रयागराज में वरिष्ठ एयर स्टाफ ऑफिसर पद पर भी काम किया है. राष्ट्रपति ने 2008 में उन्हें विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया था.

सोर्स- दैनिक जागरण

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *