कटरा की रहने वाली महिला ने अपने प्रेमी के खिलाफ आरोप लगाया है कि सरकारी नौकरी मिलने के बाद वह शादी से इनकार कर रहा है. दरोगा बनने के बाद धमकी देने लगा. ज्वाइंट कमिश्नर बनकर उसके चाचा ने कॉल करके दबाव बनाया. पीड़िता ने पढ़ाई के लिए अपने प्रेमी पर हजारों रुपए खर्च करने का भी दावा किया है. कर्नलगंज पुलिस आरोपी दरोगा समेत चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके जांच कर रही है.

युवती ने मुकदमा दर्ज कराया है कि विश्वविद्यालय में पढ़ाई के दौरान लालापुर के गौरव सिंह से उसकी दोस्ती हुई थी. जाति अलग होने के बाद भी गौरव ने शादी करने का भरोसा दिया था. दोनों साथ मिलकर प्रतियोगी परीक्षाओं की पढ़ाई कर रहे थे. इस बीच युवती की पढ़ाई पूरी होने के बाद नौकरी लग गई. गौरव को पढ़ने के लिए वह हर महीने 10000 रुपए भी देती थी और दोनों पति-पत्नी बनकर साथ रहने लगे.

2019 में गौरव का दरोगा पद पर चयन हो गया. आरोप है कि शादी की बात करने पर गौरव के पिता जो कि सीआरपीएफ में है, फोन करके अपशब्दों का प्रयोग किया. उसके चाचा ने खुद को ज्वाइंट कमिश्नर लखनऊ बताते हुए फोन पर धमकी दी, लेकिन गौरव ने शादी से इनकार नहीं किया. 26 फरवरी 2020 को गौरव पीड़िता से मिलने प्रतापगढ़ पहुंचा और कहा कि परिवार वाले मान गए हैं लेकिन बाद में गौरव ने उससे फोन पर भी बात करना बंद कर दी. आखिर में पीड़िता ने पुलिस अधिकारियों से मदद की गुहार लगाई. इसके बाद कर्नलगंज पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया.

Share this:

One thought on “दरोगा बनने के बाद शादी से मुकर गया प्रेमी, प्रेमिका ने दर्ज कराया मुकदमा”
  1. तहशील हंडिया प्रयागराज स्थित महुवाकोठी गांव मे लगी आग में 16/11/2020को हंडिया फायर ब्रिगेड नही पहुंच पाई रास्ता नही था जब कि कागज पर रास्ता 16फुट है शिकायत के बावजूद कोई कार्यवाही नही होती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *