69000 Shikshak Bharti

लखनऊ: उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में सहायक अध्यापक पद पर चयनितों को नियुक्ति पत्र जल्द मिलेगा. 69000 शिक्षक भर्ती के तहत तीसरे चरण की काउंसिलिंग पूरी हो चुकी है. नियुक्ति पत्र 30 जून को वितरित होना था लेकिन, जिला पंचायत चुनाव और राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द के दौरे की वजह से उसे स्थगित कर दिया था. अब इसी सप्ताह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से नियुक्ति पत्र वितरित कराने की तैयारी है, उसी दिन जिलों में जनप्रतिनिधि भी वितरण करेंगे.

उत्तर प्रदेश के परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 69000 शिक्षक भर्ती के तहत दो चरणों की काउंसिलिंग कराकर 63 हजार से अधिक पदों को भरा जा चुका है. जून में रिक्त पद भरने के लिए तीसरे चरण की काउंसिलिंग हुई. 26 जून को रिक्त 6696 पदों की जिलावार आवंटन सूची जारी की गई. सूची में शामिल अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग 28 व 29 जून को कराई गई. परिषद ने 30 जून को नियुक्तिपत्र वितरित करने का कार्यक्रम भी घोषित किया था लेकिन, बाद में उसे स्थगित कर दिया था.

उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव प्रताप सिंह बघेल ने बताया कि सभी जिलों से काउंसिलिंग कराने वालों का ब्योरा मांगा गया है। अब तक 24 जिलों ने सूचना भेजी है, शेष जिलों की रिपोर्ट मिलने का इंतजार है। इसी के साथ बेसिक शिक्षा विभाग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कार्यक्रम मिलने का प्रयास कर रहा है। चयनितों को नियुक्ति पत्र वितरण तारीख जल्द तय होने की उम्मीद है।

बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 69000 शिक्षक भर्ती के तहत जिलों में 28 जून से काउंसिलिंग शुरू हुई थी. दो दिन तक काउंसिलिंग चली। भर्ती के 6696 रिक्त पदों पर चयन के लिए शासन ने यह तीसरे चरण की काउंसिलिंग कराई है. शिक्षक भर्ती के तहत दो चरणों की काउंसिलिंग कराकर 63 हजार से अधिक पदों को भरा जा चुका है. 26 जून को रिक्त 6696 पदों के लिए जिलावार आवंटन सूची जारी की गई, जिसमें उन्हीं अभ्यर्थियों को काउंसिलिंग में शामिल किया गया. 6696 पदों में अनारक्षित श्रेणी के 2833, ओबीसी के 1571, अनुसूचित जाति के 1128, अनुसूचित जनजाति के 1164 रिक्त पद हैं. अनुसूचित जनजाति के पदों को अनुसूचित जाति के अभ्यर्थियों से भरा गया है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *