संगम, प्रयागराज: शनिवार को माघ मेले में आग लग गई. जिससे कल्पवासियों के 13 टेंट जलकर राख हो गए. आग लगने कारण साफ नहीं है, लेकिन आग लगने की वजह को शार्ट र्सिकट को माना जा रहा है. मेला क्षेत्र के सेक्टर च-4 में कल्पवासी थाना क्षेत्र के मोरी मार्ग पर तीर्थ पुरोहित मनीष कुमार त्रिपाठी उर्फ भोला पंडा का शिविर लगा है. यहां कल्पवासी आकर टेंट में रहते हैं और कल्पवास करते हैं.

शनिवार को दोपहर लगभग साढ़े 12 बजे अचानक एक टेंट में आग लग गई. टेंट में धुआं और आग की लपटें देख वहां खलबली मच गई. शिविर में उपस्थित लोगों ने पुलिस व फायर ब्रिगेड को सूचना देते हुए आग बुझाने में जुट गए. लेकिन कुछ देर में ही आग ने विकराल रूप ले लिया. आग ने जल्द ही एक-एक कर कई टेंटों को अपनी जद में लिया. थोड़ी ही देर में पुलिस व छह फायर टैंकर के साथ अग्निशमन के कर्मचारी पहुंचे. कड़ी मसक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया. मगर तब तक सभी टेंट और सामान जल चुके थे. प्रयागराज सभा के पदाधिकारियों का कहना है कि तीर्थ पुरोहित संस्था के नाम पर एक फर्म से ईपी टेंट आया था. आग से कई टेंट व 10 छोलदारी जल गए हैं. किसी कल्पवासी या शिविर के कर्मचारी को कोई नुकसान नहीं हुआ है. नोडल अधिकारी मेला आशुतोष मिश्रा का कहना है कि आग कैसे लगी, इसकी जांच हो रही है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *