प्रयागराज: इंस्पेक्टर की बेटी ने भाई को मारी गोली, झूठी कहानी रच बचने का किया प्रयास, ऐसे हुआ खुलासा

प्रयागराज: चकरघुनाथ थाना क्षेत्र के एक मोहल्ले में इंस्पेक्टर की 15 वर्षीय बेटी ने भाई अमरेंद्र सिंह{17} को घर के भीतर ही गोली मार दी. उसने उस पर तीन बार फायर किए. सूचना पर पुलिस उसे एसआरएन ले गई जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई थी. घटना के बाद किशोरी ने झूठी कहानी गढक़र मामले को लूट व हत्या के प्रयास का रूप देने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने कुछ घंटों के बाद ही घर के भीतर से ही पिस्टल बरामद कर खुलासा कर दिया. जिसके बाद उसे हिरासत में लेकर देर रात तक पूछताछ की गई.
चकरघुनाथ में मकान बनवाकर रहने वाले इंस्पेक्टर सभाजीत सिंह मौजूदा समय में आजमगढ़ कोरोना सेल में तैनात हैं. यहां उनकी पत्नी सुभद्रा, नौवी में पढने वाली बेटी के अलावा बेटा अमरेंद्र रहता है जो जीआईसी में 11वीं का छात्र है. मंगलवार रात 7.30 बजे के करीब अचानक इंस्पेक्टर के घर से फायरिंग की आवाज आने से मोहल्ले में सनसनी फैल गई.
लोग मौके पर पहुंचे तो अमरेंद्र खनू से लथपथ जमीन पर पड़ा था. उसे तीन गोलियां मारी गई थीं जो उसके पेट व सीने में लगी थीं. सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे एसआरएन अस्पताल में भर्ती कराया. उधर जानकारी पर एसपी यमुनापार चक्रेश मिश्रा व सीओ करछना सोमेंद्र मीणा भी आ गए। पूछताछ में इंस्पेक्टर की बेटी ने बताया कि बाइक से आए तीन युवक बाउंड्री कूदकर घर के भीतर आए और उसे पीटना शुरू कर दिया।चीख सुनकर भाई अमरेंद्र बचाने आया तो उसे एक के बाद एक तीन गोलियां मारकर भाग निकले.
हमलावरों ने चेहरे पर मास्क बांध रखा था ऐसे में वह उन्हें पहचान नहीं सकी. यह भी बताया कि हमलावर भागते वक्त आलमारी का लॉक तोडक़र गहने भी उठा ले गए. पुलिस ने जांच पड़ताल की तो घर में किसी के जबरन घुसने के सबूत नहीं मिले. घर के पास लगे सीसीटीवी फुटेज में भी उसके बताए हुलिए वाला कोई शख्स नहीं दिखा. कुछ ही देर बाद किचेन में छिपाकर रखे गए गहने भी मिल गए.
शक गहराने पर कड़ाई से पूछताछ की गई तो वह टूट गई और वारदात को अंजाम देने की बात कबूल कर ली. इसके बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। देर रात तक उससे पूछताछ चलती रही.
अब तक कि जांच पड़ताल में पता चला है कि भाई से हुए झगड़े के बाद किशोरी ने यह कदम उठाया। शाम को भी दोनों के बीच विवाद हुआ था। फिलहाल तहरीर मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। -चक्रेश मिश्रा, एसपी यमुनापार

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *