फाफामऊ से लापता मनीष सरोज का मर्डर करके शव को गंगा कछार में ठिकाने लगा दिया था. बुधवार देर रात क्राइम ब्रांच की आरोपियों से मुठभेड़ हो गई जिसमें एक युवक को पैर में गोली लगी है. पुलिस ने उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया है. पूछताछ कर उसकी निशानदेही पर पुलिस मनीष का शव बरामद करने में लगी है. अन्य आरोपी अभी भी फरार हैं.

ज्ञात हो् कि फाफामऊ निवासी मनीष सरोज और उसका दोस्त मिथुन 16 दिसंबर की रात गंगा किनारे सब्जी की रखवाली कर रहे थे. इस बीच तेलियरगंज के रहने वाले दबंगों से उनका विवाद हो गया. उन लोगों ने गोली मार दी. मिथुन गोली लगने के बाद जख्मी हालत में भाग निकला जबकि मनीष का पता नहीं चला. दो दिन बाद मिथुन की मां ने राजा बाबू समेत पांच के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया था. क्राइम ब्रांच आरोपियों की तलाश में लगी थी. एसपी गंगापार धवल जायसवाल ने बताया कि बुधवार देर रात क्राइम ब्रांच और सोरांव पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर राजा बाबू को पकड़ने के लिए फाफामऊ में घेराबंदी की तो वह पुलिस पर फायरिंग कर भागने लगा. पुलिस ने भी क्रॉस फायर किया जिसमें वह गोली लगने से जख्मी हो गया. शिवकुटी के रहने वाले राजा बाबू के खिलाफ तीन मुकदमे दर्ज हैं. पुलिस उसके अन्य साथियों की तलाश में छापेमारी कर रही है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *