एक तलाशशुदा महिला का धोखे से निकाह कराने और अश्लील हरकत करने का केस सामने आया है. खुल्दाबाद पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर एक आरोपी फिरोज अहमद को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि मो. हदीस समेत कई अन्य अभी पकड़ से दूर हैं.

महिला शाहगंज थाना क्षेत्र की रहने वाली है. उसका अपने शौहर से तलाक हो चुका है. पीडि़ता का आरोप है कि वह अक्सर हिम्मतगंज स्थित मुनौव्वर शाह बाबा की मजार पर जाती थी. इसी दौरान फिरोज अहमद से परिचय हुआ. उसने एक लड़के से निकाह कराने की बात कही. फिर 15 अक्टूबर 2019 को छत्तीसगढ़ निवासी गुलाम मुनौव्वर नामक युवक से उसका निकाह करवा दिया. कुछ दिन बाद उसे पता चला कि गुलाम का असली नाम सदानंद पटेल है.

गुलाम ने महिला को बताया था कि फिरोज अहमद, फूलपुर का मो. हदीस समेत कई अन्य ने बंधक बनाकर तीन माह तक अपने पास रखा. मारपीट करते हुए जबरन इस्लाम धर्म कुबूल करवाया. जब महिला ने फिरोज से गंदे कृत्य के बारे में पूछा तो उसे भी जान से मारने की धमकी दी. पोल खुलने के डर से सभी ने मिलकर गुलाम को गायब कर दिया. पीडि़ता का यह भी आरोप है कि फिरोज और उसके साथी मजार के आसपास मकानों में बंधक बनाकर हिंदू लड़के-लड़कियों का धर्म परिवर्तन करते हैं.
मो. हदीस उसके मोबाइल पर अश्लील बातें करता है और कभी-कभी घर पर आकर भी छेडख़ानी करता है. इंस्पेक्टर खुल्दाबाद विनीत सिंह का कहना है कि तहरीर के आधार पर मुकदमा कायम किया गया है. पीड़तिा से निकाह करने वाले से पूछताछ में धर्म परिवर्तन की सच्चाई का पता चलेगा. बाकी आरोपियों की तलाश की जा रही है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *