नैनी थाना क्षेत्र के मुंगारी गांव निवासी महेश कुमार पटेल उर्फ कल्लू की मौत से पर्दा हट गया है. मृतक महेश कुमार पटेल की उसके साथियों ने ही की थी. उसके साथियों ने महेश कुमार की आंख में लाल मिर्च का पाउडर डालने के बाद गला घोटकर उसको मारा था. हिरासत में लिए गए आरोपियों से पूछताछ में महेश कुमार की बेरहमी से हत्या करने की बात कबूली. पुलिस ने आरोपियों पर हत्या की कारवाई करते हुए उन्हें जेल भेज दिया है.

पुलिस के अनुसार महेश का साथी शिवबाबू को पता था कि उसका साथी महेश अण्डे की डिलीवरी होने के बाद पैसा अपने मालिक को देता था. आरोपी शिवबाबू दक्षिणी लोकपुर नैनी का रहने वाला है. उसने अपने साथी अशफाक के साथ लूट और हत्या की साजिश रची थी. महेश जब शनिवार को पिकअप लेकर अण्डे की डिलीवरी करने के लिए निकला तभी बाइक से शिवबाबू और अशफाक भी उसके पीछे लग गए. मेजा, करछना समेत अन्य जगहों से होकर गुजरे. अण्डे की सप्लाई होने के बाद औद्योगिक थाना क्षेत्र में दोनों ने उसे रोक लिया और पिकअप में बैठ गए. बातचीत के दौरान ही शिवबाबू ने चालक महेश कुमार पटेल की आंखों में मिर्च पाउडर डालकर पट्टी बांध दी. इसके बाद नॉयलान की रस्सी का फंदा गले में डालकर उसे पिकअप से बाहर घसीट लिया. शिवबाबू ने जूते से कई बार महेश के सिर पर जूते से प्रहार किया और फिर गले का फंदा कस दिया. जिससे उसकी मौत हो गई. मरने के बाद पिकअप में रखा पैसा लेकर दोनो फरार हो गए. हत्याकांड के बाद हत्यारों की तलाश में जुटी पुलिस और एसओजी की रविवार रात मुठभेड़ हो गई, जिसमें शिवबाबू के पैर में गोली लग गई और अशफाक को दबोच लिया गया. एसपी यमुनापार ने बताया कि अशफाक को जेल भेज दिया गया और और शिवबाबू का इलाज चल रहा है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *