करीब दो महीने पहले सोरांव में हुइ दोहरे हत्याकांड से सोमवार को पर्दा हट गया. पुलिस का दावा है कि सरायदीना गांव के निवासी दो सगे भाइयों मां बेटे का कत्ल किया था. दोनों को गिरफ्तार कर मृतक का मोबाइल भी बरामद कर लिया गया है. पुलिस के अनुसार घटना को प्रेम प्रसंग के विरोध में अंजाम दिया गया था. सरायदीना गांव निवासी सुरेंद्र(27) व उसकी मां धरमू देवी(45) की 12 दिसंबर की रात जब दोनो घर में सो रहे थे उनका बेरहमी से कत्ल कर दी गई थी. सुबह उनकी खून से लथपथ लाश मिलनेस से इलाके में सनसनी फैल गई थी. मृतक के छोटे भाई महेंद्र ने शक के आधार पर गांव के सात लोगों को नामजद कराया था. सोमवार को पुलिस ने सरायदीना गांव के ही विनोद कुमार व उसके भाई प्रमोद कुमार को हिरासत में लेकर मामले का खुलासा किया.

पुलिस का दावा है कि दोनो का कत्ल प्रेम प्रसंग के विरोध में किया गया था. मामले के अनुसार आरोपी विनोद का मृतक सुरेंद्र के एक रिश्तेदार के परिवार की महिला से संबंध था. जिसका मां-बेटे दोनो विरोध करते थे. कुछ दिन पहले विनोद जबरन महिला के घर में घुस गया था. जिसे लेकर सुरेंद्र से उसकी जमकर नोकझोंक हुई थी. सुरेंद्र व धरमू देवी ने उसे बहुत भला बुरा कहा था. पुलिस के अनुसार, पूछताछ के दौरान विनोद ने बताया कि मां बेटे ने उसे मिलकर बहुत जलील किया था. इसके बाद ही वह उनसे रंजिश रखने लगा और उन्हें सबक सिखाने के लिए मौका ढूंढने लगा. घटना वाली रात उसने पहले जमकर शराब पी और फिर अपने भाई के साथ मिलकर घर के बरामदे में सो रहे मां बेटे को चापड़ से ताबड़तोड़ वार कर मौत के घाट उतार दिया. एसपी गंगापार धवल जयसवाल ने बताया कि मामले में पूर्व में नामजद कराए गए सभी सातों आरोपियों की फिलहाल कोई संलिप्तता सामने नहीं आई है. गिरफ्तार दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है.

 

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *