सलोरी से गायब हुए युवक ने पुल से कूदकर जान दे दी थी. बुधवार को यमुना में उसका शव मिलने पर परिवार में कोहराम मच गया. युवक घरवालों से नाराज होकर घर से निकला था. शव की शिनाख्त होने के बाद दारागंज पुलिस ने विधिक कार्रवाई की.

दारागंज पुलिस ने बताया कि 20 वर्षीय चंचल भारतीय ई-रिक्शा चलाता था. 8 जनवरी की रात में वह घर पहुंचा तो परिजनों ने उसको फटकार लगाई. इससे नाराज होकर वह घर से चला गया. इसके बाद से उसका पता नहीं चला. इधर, उसका भाई छोटू भारतीय मां और बहन के साथ उसकी तलाश में परेशान थे. कहीं से पता नहीं चलने पर परिवार ने 12 जनवरी को कर्नलगंज थाने में चंचल की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई.

बुधवार दोपहर यमुना में मौजूद मल्लाहों ने दारागंज पुलिस को बताया कि एक युवक का शव सरस्वती कूप के पास उतराया है. पुलिस ने गोताखोरों की मदद से शव को नदी से बाहर निकलवाया. पुलिस शव को लेकर किलाघाट के पास पहुंची. इस दौरान वहां लोगों का जमावड़ा लग गया. लाश चार-पांच दिन पुरानी लग रही थी. इस बीच छोटू अपने गायब हुए भाई चंचल की तलाश करता हुआ वहां पहुंच गया. उसने शव की शिनाख्त की. थोड़ी देर में उसकी मां और बहन भी पहुंच गई. परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *