मऊआइमा थानाक्षेत्र के एक गांव में गुरुवार रात 12 साल के बच्चे की हत्या करने का मामला सामने आया है. रात में अचानक बच्चे के गायब होने के बाद परिजन उसकी तलाश में लग गए थे. देर रात नाले में उसकी लाश मिलने से गांव में हड़कंप मच गया. सूचना मिलने पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने छानबीन की लेकिन देर रात तक कातिल का पता नहीं चला.
मऊआइमा के कटभर परवेजपुर गांव निवासी सरकेश ने गुरुवार को गांव में मकर संक्रांति के अवसर पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया था. उनके घर में रात में लोगों का जमावड़ा लगा था. रात लगभग 9 बजे उनका 12 वर्षीय बेटा आदर्श अचानक लापता हो गया. पहले तो परिजनों को लगा कि किसी के साथ खेल रहा होगा लेकिन जब उसका पता नहीं चला तो घरवाले परेशान हो गए. गांववालों के साथ बच्चे की तलाश शुरू की. देर रात में ही गांव से 100 मीटर दूर नाले में आदर्श खून से लथपथ पड़ा मिला. उसके सिर पर गंभीर चोट के निशान थे. ऐसा लग रहा था कि जैसे किसी भारी वस्तु से सिर पर हमला किया गया हो. इसके बाद उसका शव नाले में ठिकाने लगा दिया गया. आदर्श को खून से लथपथ हालत में लेकर अस्पताल गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. बच्चे की मौत की खबर सुनकर उसके परिवार में कोहराम मच गया. सूचना मिलने पर सीओ और मऊआइमा पुलिस मौके पर पहुंच गई. परिजनों के अलावा गांववालों से भी पूछताछ की गई. एसपी गंगापार धवल जायसवाल ने बताया कि आदर्श से किसी से मारपीट हुई थी. हमले में वह जख्मी हो गया. अस्पताल में डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. मामले की जांच की जा रही है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *