नौकरी दिलाने के लिए गए लाखों रुपये वापस करने के लिए एक युवक ने अपने ही अपहरण की साजिश रच डाली. इसके बाद युवक ने घरवालों से 30 लाख की फिरौती मांगी. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करके मामले का खुलासा किया है. बता दें कि अंतू कोतवाली क्षेत्र के नेवादा गौराडांड़ के रहने वाले हेमबहादुर लालगंज कोतवाली के खजुरी वर्मा नगर में रहता है. बीते चार मार्च को हेजराज के मोबाइल से पत्नी व एक परिचित महिला के मोबाइल नंबर पर मैसेज आया कि उसका अपहरण कर लिया गया है. 30 लाख की फिरौती नहीं देने पर उसको मौत के घाट उतार दिया जाएगा.

जानकारी के बाद रामजियावन ने अपहरण का मामला दर्ज करा दिया. स्वाट टीम व लालगंज पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो छह मार्च को हेमराज की लोकेशन रायबरेली में मिली. मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने शनिवार सुबह उसे रोडवेज बस से लालगंज इलाके में बरामद कर लिया. पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो हेमराज ने अपने अपहरण की कहानी बयां कर दी. बताया कि उसने कई लोगों से नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपये लिए थे. वह किसी को नौकरी नहीं दिला सका और सारे रुपये खर्च हो गए. जब लोग रुपये मांगने लगे तो उसने अपने अपहरण की झूठी कहानी बना डाली और परिजनों को मैसेज भेजकर फिरौती मांगी. पुलिस हेमराज को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना का खुलासा करने पुलिस टीम को पांच हजार रुपये का इनाम दिया जाएगा.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *