प्रयागराज-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित मंसूराबाद बाईपास का खतरनाक घुमाव वाहन चालकों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है. लोगों की मानें तो आसपास स्थित ढाबों पर बेतरतीब खड़े वाहन भी दुर्घटना के कारण बन रहे हैं. पिछले कुछ महीनों में इस स्थान पर हुई दुर्घटनाओं में दर्जनों लोगों की मौत हो चुकी है.

प्रयागराज-लखनऊ राजमार्ग आवागमन के लिहाज से अति महत्वपूर्ण है. उक्त मार्ग पर स्थित क्षेत्र का मंसूराबाद बाईपास अत्यंत घुमावदार होने तथा आसपास स्थित ढाबों पर बेतरतीब खड़े वाहनों के चलते आये दिन तेज रफ्तार वाहन दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं. ग्रामीणों की शिकायत के बावजूद हाईवे प्रशासन इस ओर से लापरवाह बना हुआ है. अधिक घुमाव होने के कारण अभी तक दर्जनों हादसों में एक दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. बीते एक जनवरी की रात टवेरा व ट्रक की टक्कर में तीन लोग की मौत व आधा दर्जन लोग उक्त मोड़ पर ही दुर्घटना का शिकार होकर गंभीर रूप से घायल हो चुके हैं. इसके पूर्व भी इसी जगह हुए कई गंभीर हादसों में लोगों की जान जा चुकी है.

ग्रामीणों का आरोप है कि आसपास स्थित ढाबों पर वाहन चालक सड़क पटरी पर वाहनों को बेतरतीब खड़ा कर देते हैं जिससे प्रयागराज व लखनऊ से आने जाने वाले वाहनों के बीच अक्सर आमने-सामने टकराव होती रहती है. लोगों ने मांग किया है कि ढाबों से वाहनों को हटाया जाए। साथ ही मोड़ पर अत्यधिक घुमाव को दुरुस्त किया जाए.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *