Atiq's henchmen occupied 45 bighas of government land in Prayagraj

प्रयागराज में भूमाफियाओं और पुलिस प्रशासन के बीच कुश्ती जारी है. खासकर अहमदाबाद जेल में बंद माफिया अतीक अहमद के कारिंदों ने तो पुलिस व प्रशासन के नाक में दम कर रखा है. ताजा मामला माफिया के करीबी रहे प्रॉपर्टी डीलर का है, जिसने 45 बीघा जमीन पर अवैध प्लाटिंग कर दी. जानकारी मिलने पर विकास प्राधिकरण के अफसरों में हड़कंप मच गया. आननफानन में प्रॉपर्टी डीलर व उसके साथी के खिलाफ नोटिस जारी किया गया. साथ ही प्लाटिंग का काम रुकवाने को एक पत्र भी पुलिस को भेजा गया है.

मामला पूरामुफ्ती के बम्हरौली स्थित रसूलपुर मरियाडीह का है। सूत्रों का कहना है कि अतीक अहमद के करीबी प्रॉपर्टी डीलर व उसके पार्टनर ने यहां स्थित 45 बीघा जमीन पर अवैध प्लाटिंग कर दी. यहां ऊंचे टीले को काटकर पहले जमीन का समतलीकरण कराया गया. इसके बाद कच्ची रोड व रास्ते का निर्माण कराया गया. यही नहीं, विद्युत पोल लगवाकर ऊंची बाउंड्रीवाल भी खड़ी करवा दी गई. हैरानी की बात यह है कि इतना सब कार्य कराने में महीनों लगे, लेकिन इसकी जानकारी न तो इलाकाई पुलिस को हुई और न ही प्रयागराज विकास प्राधिकरण को भनक लगी। सरकारी कर्मचारियों व स्थानीय पुलिस की भी इसमें मिलीभगत की बू आती है.

बता दें नगरीय क्षेत्र में विकास प्राधिकरण की अनुमति के बिना किसी प्रकार की प्लॉटिंग करना अवैध माना जाता है. यह उत्तर प्रदेश नगर योजना और विकास अधिनियम 1973 की धारा 14 व धारा 15 का खुला उल्लंघन होता है. इस प्लाटिंग में भी वही हुआ है. इसकी जानकारी जब पीडीए को हुई तो खलबली मच गई.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *