इफको फूलपुर गैस रिसाव पर सीएम ने दिए जांच के आदेश, दो सालों में पांचवी रिसाव की घटना

फूलपुर स्थित इफको प्लांट में मंगलवार देर रात बड़ा हादसा हो गया. यूरिया यूनिट में अमोनिया गैस के लीकेज से दो अधिकारियों की मौत हो गई जबकि 15 कर्मचारियों की तबीयत बिगड़ गई, जिन्हें भर्ती कराया गया है. हादसे के वक्त प्लांट में 100 से अधिक कर्मचारी काम कर रहे थे. प्लांट में यह पहला हादसा नहीं हैं, पिछले दो सालों में पांच बार गैस रिसाव की घटना हो चुकी है. बार-बार हो रहे लीकेज से कंपनी की कार्य प्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं.

इंस्पेक्टर फूलपुर राजकिशोर ने बताया कि अमोनिया गैस की किसी पाइप लाइन में रिसाव हो गया था, जिस कारण 15 कर्मचारी चपेट में आ गए. इसमें से दो की मौत हो गई है. यहां लीकेज की यह पहली घटना नहीं है. पिछले दो सालों में यहां पांच बार रिसाव हो चुका है. बार-बार चूक, बड़ी लापरवाही बनती जा रही है. इससे यहां किसी भी वक्त और बड़ा हादसा भी हो सकता है. इससे पहले 25 जनवरी, 2019 को तीन मजदूर और अप्रैल, 2019 में 12 लोगों की हालत बिगड़ी थी.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फूलपुर इफ्को प्लांट में गैस रिसाव की घटना पर दुख जाहिर किया है. उन्होंने घटना की जांच के आदेश दिए हैं. इफको प्लांट के जनसंपर्क अधिकारी विश्वजीत श्रीवास्तव ने बताया कि यह हादसा एक यूरिया प्रोसेसिंग यूनिट में हुआ था. एक अमोनिया प्लंजर टूट गया, जिससे अमोनिया गैस का रिसाव हुआ. आसपास के कर्मचारी प्रभावित हुए और उन्हें अस्पताल ले जाया गया.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *