Farmer massacre exposed in Prayagraj

प्रयागराज ​​​​​​में हुई किसान हत्याकांड में पुलिस ने खुलासा किया है. पुलिस नें हत्या की साजिश में शामिल दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी मृतक किसान राकेश पाल के साथी ही हैं. दोनों आरोपियों ने मिलकर तीसरे व्यक्ति को 20 हजार रुपये की सुपारी दी थी. मुख्य हत्यारे को अभी तक गिरफ्तार नही किया जा सका है. खुलासे में हत्या के पीछे 13 लाख रुपये का विवाद बताया जा रहा है.

बता दें करेली थाना अंतर्गत सैदपुर गांव निवासी राकेश पाल (45) खेती किसानी के साथ-साथ प्रॉपर्टी डीलिंग का भी काम करता था. उसके साथ अवनीश कुमार यादव उर्फ जैनू पुत्र अमरनाथ यादव और अजहुल हुदा पुत्र मुस्ताक अहमद पार्टनर थे. अजहुल हुदा के मुताबिक उसने प्रॉपर्टी खरीदने के लिए राकेश पाल और अवनीश यादव को तकरीबन 13 लाख रुपए दिए थे. लेकिन इन लोगों ने न तो उस रुपए से जमीन खरीदी और न ही बकायेदारों को रुपए दिए. इसके अलावा शेरू पाल नाम के एक शख्स से सात लाख रुपए का विवाद चल रहा था. रुपए मांगने पर या हिसाब मांगने पर राकेश पाल आनाकानी करने लगता था, जिससे उसके दोनों पार्टनर तंग आ गए थे. इसी नाराजगी में इन दोनों लोगों ने उसकी हत्या की साजिश रची. साजिश में अवनीश उर्फ जैनू ने अपने साथी धर्मेंद्र भारतीय और गैंडा को 20 हजार की सुपारी देकर राकेश पाल की हत्या करवा दी.

ज्ञात हो 9 जुलाई की रात में अवनीश यादव ने खाने-पीने के बहाने राकेश पाल को खेत में बुलाया. वहां चारों ने मिलकर दारु पी। उसके बाद अवनीश एवं अजहुल वहां से चले गए. धर्मेंद्र ने राकेश पाल की हत्या कर दी और फरार हो गया.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *