प्रयागराज: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव सोमवार को प्रयागराज पंहुंचे. बम्हरौली एयरपोर्ट पर चार्टर्ड प्लेन से उतरने के बाद वह कार से काफिले के साथ सिविल लाइंस में सरोजनी नायडू मार्ग स्थित पूर्व केंद्रीय मंत्री सलीम शेरवानी के आवास पर पहुंचे. इसके बाद वे पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व. रामपूजन पटेल के तेलियरगंज स्थित आवास पर पहुंचे और उन्हें श्रद्धांजलि दी. उनके स्वजनों से मुलाकात कर उनको सांत्वना दी. बोले कि स्व. रामपूजन पटेल के निधन से जो क्षति हुई है, वह उसे बयां नहीं कर सकते.

2022 में बनेगी सपा की सरकार-

भारतीय जनता पार्टी ने हमेशा देश में नफरत घोलने का काम किया है. देश के लोगों से लगातार झूठ बोला जा रहा है. किसानों, युवाओं के लिए कोई काम नहीं किया गया. बस उद्योगपतियों और पूंजीपतियों के लिए ही यह सरकार काम कर रही है. आज प्रदेश की जनता सपा की सरकार को याद कर रही है और आगामी 2022 के चुनाव में सपा का परचम लहराएगा. राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश सरकार का अंतिम बजट आज पूरा हो गया है. यह पांचवां बजट था। अब उनके पास करने को कुछ नहीं है. हालांकि, जब से भाजपा की सरकार बनी है, तब से कोई नया काम नहीं हुआ. सिर्फ सपा सरकार में किए गए कार्यों का शिलान्यास ही किया गया है. डीजल-पेट्रोल की बढ़ी कीमतों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार इसे कम कर सकती है, लेकिन वह निजी कंपनी की बात कहकर अपना पलड़ा झाड़ रही है.

कृषि को निजी हाथों में देने की तैयारी-

वहीं कृषि संबंधी तीन कानून बनाकर वह निजी हाथों में इसे सौंपने की तैयारी में है. ऐसे में किसान सड़क पर आ जाएगा. हर व्यक्ति को गेहूं, चावल महंगे दाम पर खरीदने पड़ेंगे. गंगा सफाई की बात करते हुए कहा कि गंगा साफ तो नहीं हुईं, लेकिन इसके लिए आया बजट जरूर साफ हो गया. उन्होंने साफ कहा कि सपा की सरकार बनने पर हर वर्ग के लिए कल्याणकारी योजनाएं शुरू की जाएंगी. सपा सरकार में चालू की गईं जिन योजनाओं को भाजपा सरकार ने बंद किया है, उसे पुन: चालू किया जाएगा.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *