प्रयागराज में नाबालिग का अपहरण कर तीन लोगों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

प्रयागराजः जिले में एक युवती और उसकी 13 वर्षीय बेटी से दुष्कर्म का मामला सामने आया है. आरोप है कि एक शख्स अपने दोस्त की विधवा पत्नी की मजबूरी का फायदा उठाकर उसके साथ बीते 10 महीने से रेप कर रहा था लेकिन जब आरोपी ने महिला की नाबालिग बेटी से रेप किया तो उसका धैर्य जवाब दे गया. पीड़िता से कीडगंज निवासी रणजीत सिंह के खिलाफ नैनी थाने के मुकदमा दर्ज करवाया है. जिसके बाद पुलिस ने सोमवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. नाबालिग पीड़िता को मेडिकल के लिए भेज दिया गया है.

कीडगंज के रहने वाले रणजीत सिंह यादव उर्फ डब्बू यादव की मोहल्ले के ही रहने एक व्यक्ति के साथ पार्टनरशिप में काम करते थे. पार्टनर दोस्त ने कई लोगों से कर्ज ले रखा था. 11 दिसंबर 2018 में उसकी बीमारी से मौत हो गई. कर्ज देने वाले लोग उसकी पत्नी और बच्चों को परेशान करने लगे. जिस पर उसकी पत्नी ने रणजीत सिंह से मदद की गुहार लगाई.

मदद की आड़ में रणजीत सिंह ने महिला का करीब एक साल तक रेप करता रहा. महिला का आरोप है कि चार अगस्त को रणजीत ने उसकी 14 साल की छोटी बेटी के साथ रेप किया और अब जान से मारने की धमकी दी. बड़ी बेटी ने देखा तो उसे भी धमकी दी. सात अगस्त की देर शाम फिर रणजीत अरैल में महिला के पास पहुंचा और उसकी छोटी बेटी को कमरे में ले जाकर गलत करने लगा।. उसने शोर मचाया तो मोहल्ले के लोग इकट्‌ठा हो गए. मोहल्ले वालों ने उसे पकड़कर पीट दिया. उसके बाद रणजीत वहां से भाग गया.

पीड़िता भी अपने तीनों बच्चों को लेकर वहां से शहर चली गई। सोमवार की सुबह उसने नैनी कोतवाली में शिकायती पत्र दिया। इंस्पेक्टर नैनी सुजीत कुमार दुबे ने बताया कि पीड़िता की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published.