कौशांबी जिले के पश्चिम शरीरा क्षेत्र के एक गांव में प्रेमी के हत्या की खबर मिलने के बाद महिला ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी. पुलिस ने जांच की तो पता चला कि दो दिन पहले उसके पति ने ही कत्ल किया. जांच के दौरान पता चला कि प्रेमी की हत्या के एक दिन पहले वह अपने पति से झगड़ा करके मायके में आकर रहने लगी थी. बहरहाल मायके वालों ने अब तक किसी भी तरह का कोई आरोप नहीं लगाया है और न ही लिखित शिकायती पत्र थाने में दिया है.

पश्चिम शरीरा इलाके की 26 वर्षीय महिला की शादी कोखराज थाना क्षेत्र के एक गांव में हुई थी. पति हैदराबाद में रहकर फर्नीचर बनाने का काम करता था. उसके घर में कोखराज के ही मारुफपुर निवासी ट्रक चालक वसीम पुत्र मोहम्मद नसीम का आना-जाना बना रहता था. महिला से उसका प्रेम संबंध हो गया. दोनों के बीच अवैध संबंधों की जानकारी पति को तब हुई जब वह सप्ताह भर पहले हैदराबाद से घर लौटा. गांव के लोगों के जरिए जानकारी होने पर पत्नी को समझाने का प्रयास किया तो वह झगड़ा करके चार जनवरी को पश्चिम शरीरा में अपने मायके चली गई. अपना परिवार बिखरता देख पति ने ट्रक चालक वसीम को रास्ते से हटाने का फैसला कर लिया.

5 जनवरी को वह कोखराज के ही चमरूपुर गांव के बाहर नयन तारा तालाब किनारे पहुंचा और ट्रक चालक को बुलाकर शराब पिलाई. इसके बाद ईंट से सिर पर वार कर वसीम की हत्या कर दी. मामले में पुलिस ने घटना का पर्दाफाश करते हुए बुधवार को हत्यारोपित पति को जेल भेजा था. वहीं घटना की जानकारी बुधवार की शाम ही महिला को हुई तो वह प्रेमी ट्रक चालक की हत्या और पति के जेल जाने का सदमा बर्दाश्त न कर सकती. महिला के पिता के अनुसार गुरुवार की भोर करीब पांच बजे उसने अपने कमरे में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. सुबह काफी देर तक वह कमरे से बाहर नहीं निकली तो परिवार के लोग अंदर गए. फंदे पर लटकता शव देख होश उड़ गए. रोने-चीखने की आवाज सुनकर लोग एकत्र हो गए. इंस्पेक्टर सर्वेश कुमार सिंह ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। इंस्पेक्टर का कहना है कि मायके वालों ने अब तक किसी पर कोई आरोप नहीं लगाया है. शिकायती पत्र मिलने पर पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *