मौनी अमावस्या पर प्रयागराज में जमकर लग रही पुण्य की डुबकी

प्रयागराजः कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच सोमवार की सुबह से माघ मेले के सबसे बड़े स्नान पर्व मौनी अमावस्या की शुरुआत हुई. मंगलवार को भी मौनी अमावस्या के शुभ मुहूर्त पर प्रयागराज में श्रद्धालु का रेला है. पिछले 24 घंटे में यहां 10 लाख लोगों ने स्नान किया. स्नान का सिलसिला आज भी जारी है. मेला प्रबंध समिति का कहना है कि आज दोपहर तक स्नान करने वालों की संख्या 50 लाख पहुंच सकती है. संगम की ओर लाखों कदम चले ही आ रहे हैं. सबके मन में बस त्रिवेणी में पुण्य की एक डुबकी लगाने की है। फिलहाल प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर रखे हैं.

प्रशासन ने मौनी अमावस्या के दिन देशभर से 50 लाख लोगों के आने की संभावना व्यक्त की है. तैयारियों को परखने के लिए प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र भी रविवार को माघ मेला क्षेत्र का दौरा कर चुके हैं. माघ मेले में सुरक्षा-व्यवस्था चाक-चौबंद है.

पांच सेक्टर में बसे मेले में छह ऐसे स्थानों पर वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था की गई है, जहां से संगम जाने के लिए कम चलना पड़े. सुरक्षा के लिए स्नान घाटों के अलावा मेला क्षेत्र में सेक्टर वाइड आतंकवाद निरोधी दस्ता समेत पांच हजार से अधिक जवान तैनात कर दिए गए हैं.

अमावस्या लगने की वजह से संगम पर सोमवार को ही मौन डुबकी लगने लगी. त्रिवेणी संगम समेत गंगा के नौ स्नान घाटों पर मेला प्रशासन ने देर शाम तक 45 लाख श्रद्धालुओं के पुण्य की डुबकी लगाने का दावा किया.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published.