प्रतापगढ़ के जवान का राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

प्रतापगढ़ः जिले के अंतू थाना क्षेत्र के रहने वाले रितेश पाल को नम आंखों से अंतिम विदाई दी गई. शनिवार देर शाम उनका शव पैतृक गांव पूरेभैया पहुंचा था. जैसे उनका शव गांव पहुंचा गांव के लोग एक झलक पाने के लिए इकट्ठा हो गए. रविवार दोपहर को देशभक्ति गीतों के बीच शहीद की शव यात्रा निकाली गई. राजकीय सम्मान के साथ शहीद का अंतिम संस्कार किया गया.

"ऐसे विदा होते हैं जवान"
“ऐसे विदा होते हैं जवान”

अंतू थाना क्षेत्र के पूरेभैया गांव निवासी रितेश पाल (32) वर्ष 2010 में सेना में भर्ती हुए थे. वह सेना की इंजीनियरिंग कोर में नायब थे. इन दिनों उनकी तैनाती हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के मनाली में थी. शुक्रवार सुबह बारिश के कारण सड़क बाधित हो गई थी. वह अपने साथियों के साथ जेसीबी से सड़क ठीक करने में लगे थे. तभी भूस्खलन के कारण उनके ऊपर टूटकर पहाड़ गिर पड़ा. वह जेसीबी समेत गहरी खाई में गिर गए.

प्रतापगढ़ के जवान का राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार
प्रतापगढ़ के जवान का राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

रितेश पिछले महीने ही अपने घर पूरेभैया आए थे. करीब डेढ़ साल से वह मनाली में तैनात थे. रितेश का छोटा भाई भी सेना में है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद के परिजनों को 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है.उन्होंने शहीद के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने तथा जनपद की एक सड़क का नामकरण शहीद के नाम पर करने की भी घोषणा की है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *