प्रयागराज: जिले के मऊआइमा थाना क्षेत्र में 19 फरवरी की रात रोनिका सिंह की हुई हत्या का राजफाश जरूर पुलिस ने कर दिया. पुलिस ने आरोपी सोनू कुमार पटेल से पूछताछ की तो उसने बताया कि चलती कार में ही रस्सी से गला कसकर रोनिका की हत्या कर दी थी. उसके साथ उसके दो दोस्त नंचू पासी उर्फ संदीप निवासी उदयचंद्रपुर थाना सोरांव और रामनरेश प्रजापति निवासी गद्​दोपुर थाना फाफामऊ भी थे. पूछताछ करने पर सोनू ने बताया कि कार में वह रोनिका को समझा रहा था कि वह उससे शादी नहीं कर सकता. क्योंकि वह पहले से शादीशुदा है. लेकिन रोनिका कुछ सुनने को तैयार नहीं थी. वह विवाह करने की जिद पर अड़ी थी. तरह-तरह की धमकियां भी दे रही थीं, जिस कारण उसकी हत्या कर दी. लाश को दुबाही गांव के समीप शारदा सहायक नहर में ठिकाने लगा दिया गया, जबकि रोनिका के पर्स, मोबाइल, आइडी, फोटो आदि को वहीं कुछ दूर पर गेहूं के खेत में फेंक दिया था.

मऊआइमा थाना क्षेत्र के दुबाही गांव के समीप स्थित शारदा सहायक नहर में 20 फरवरी की सुबह एक युवती की लाश मिली थी. दो दिन बाद कोरांव थानांतर्गत खजुरी खुर्द गांव की रहने वाली गायत्री पत्नी स्व. गुलाब सिंह पोस्टमार्टम हाउस पहुंची और शव की पहचान अपनी बेटी रोनिका सिंह (28वर्ष) के रूप में की थी. पुलिस को बताया था कि पति से विवाद होने के कारण रोनिका नैनी क्षेत्र में किराए का कमरा लेकर अकेले रहती थी. इसके बाद पुलिस ने रोनिका के मोबाइल नंबर की सीडीआर निकलवाई और फिर सोनू कुमार पटेल निवासी मातादीन का पूरा थाना फाफामऊ को गिरफ्तार कर लिया.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *