माण्डा थाना क्षेत्र के चकडीहा निवासी अजीज अली (63) पुत्र गफ्फूर अली सिंचाई विभाग के रिटायर कर्मचारी थे. मंगलवार की दोपहर वह बकरियों को चराने के लिए बामपुर फाटक के समीप गए थे. इस दौरान ग्यारह हजार हाई टेंशन का तार के चपेट में आ गए. करंट की चपेट में आने से उनका पूरा शरीर धू – धू कर जलने लगा. जिसे देख कर इलाके में अफरा-तफरी मच गई और लोग सहम उठे. इस दौरान घटनास्थल के स्थानीय लोगों की सूचना पर कुछ देर बाद विद्युत आपूर्ति को बंद कराया गया, लेकिन तबतक अधेड़ की दर्दनाक मौत हो चुकी थी.

बिजली विभाग की घोर लापरवाही के चलते के ग्रामीणों में खासा आक्रोश है. घटन की सूचना परिजनों को दी गई जिससे परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. रोते बिलखते परिजन भी घटनास्थल पहुँचें. वहीं घटना की जानकारी होने पर मेजा एसडीएम, माण्डा थानाध्यक्ष, भारतगंज चौकी इंचार्ज, दिघिया चौकी इंचार्ज सहित अन्य पुलिसकर्मी घटनास्थल पहुचें. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्डम के लिए भेजवाया. बता दें की मृतक के परिजनों सहित लोगों का आरोप है कि बीते कई माह से उक्त विद्युत तार नीचे लटका हुआ था, लेकिन स्थानीय जेई सहित बिजलीकर्मियों की लापरवाही के कारण तार को दुरुस्त कर ऊपर नही किया गया, जिससे हादसा हुआ. उक्त मामले को लेकर परिजनों सहित इलाक़ाई लोगों में बिजली विभाग के प्रति खासा आक्रोश व्याप्त है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *