प्रयागराज: मारना था जीजा को कर दिया साले का कत्ल

कबाड़ की दुकान में रोज सोने वाले जीजा मो. हसनैन उर्फ हुसैन को मारना था, मगर युवकों ने उसके साले सलीम उर्फ राजू का कत्ल कर दिया. हत्या की जांच में जुटी थरवई पुलिस को यही जानकारी मिली है. पुलिस का कहना है कि हुसैन के सामने ही गुलाम की भी कबाड़ की दुकान है. कारोबार को लेकर उनके बीच कई बार झगड़ा हो चुका था, लेकिन एक भी दफा पुलिस में शिकायत नहीं की गई थी.
हुसैन ने लगभग 10 दिन पहले अपने साले राजू को घर बुलाया था।. राजू रविवार को ही अपनी बहन को लेकर कौंधियारा जाने वाला था, लेकिन हुसैन ने खेत में पानी लगाने के नाम पर रोक लिया था. दुकान पर काम करने वाला एक निहाल भी रिश्तेदारी में शादी के कारण तीन दिन पहले चला गया था. इसके चलते राजू अकेले ही दुकान पर सो रहा था. तभी धारदार हथियार से हमला करके उसकी हत्या कर दी गई. इंस्पेक्टर थरवई राकेश चौरसिया ने बताया कि हुसैन की तहरीर पर गुलाम के खिलाफ मुकदमा लिखकर उसे पकड़ लिया गया है. हालाकि, हत्या में इस्तेमाल कोई हथियार अभी पुलिस के हाथ नहीं लगा है. कत्ल में और लोग शामिल हो सकते हैं, जिसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.
हत्या के आरोप में पकड़े गए गुलाम को हृदय रोगी है. जब पुलिस ने उससे पूछताछ की तो तबियत बिगड़ गई. इस पर उसे तुरंत स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल पहुंचाया गया. गुलाम का बयान विरोधाभासी है, जिसके आधार पर पुलिस उसकी भूमिका मान रही है.
राजू दो भाइयों में बड़ा था. वह अपने छोटे भाई चाद बाबू के साथ मुंबई में रहकर काम किया करता था. कोरोना के कारण वह अपने गांव वापस आ गया था. शौहर की मौत पर गर्भवती बीवी माजिदा बिलखती रही. पिता इदरीश के आखों से भी आसू थमने का नाम नहीं ले रहा था. तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर आरोपित को पकड़ लिया गया है. उससे पूछताछ चल रही है. घटना में शामिल अन्य लोगों के बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *