यमुनापार इलाके में खीरी के सिरहिर गांव में पांच रोज पहले किसान इंद्र देव मिश्रा की हत्या के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को दबोच लिया है. उन दोनों को पूछताछ के बाद खीरी थाने की पुलिस ने जिला अदालत में पेश किया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया.

सिरिहर गांव में 17 जनवरी को किसान इंद्र देव मिश्रा की सब्बर, लाठी, डंडा से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी. इस हत्याकांड में नामजद मान सिंह उर्फ रिपू व उसके भाई महेंद्र सिंह पुत्र वशिष्ठ सिंह को खीरी थानाध्यक्ष सन्तोष कुमार सिंह ने भगवान पुर नहर पुलिया के पास हथियार सहित गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने बताया कि दोनों को न्यायालय में पेश करने के बाद जेल पहुंचा दिया गया है.

जांच में पता चला है कि इंद्र देव उर्फ मुन्नू मिश्रा और वशिष्ठ सिंह के परिवार के बीच पट्टे की जमीन के लिए लंबे समय से विवाद चल रहा था. कई बार आरोपियों ने भवन निर्माण नहीं करने की धमकी भी दी थी. पुलिस ने शिकायत मिलने पर मुकदमा लिखकर जेल भी भेजा था. मगर जमानत पर जेल से निकलने के बाद आरोपी आए दिन धमकी दे रहे थे. 17 जनवरी को इंद्र देव मकान निर्माण करने के लिए नींव की खुदाई कर रहे थे तभी अचानक पीछे से आकर उन पर हमलावर कर दिया. गंभीर रूप से घायल इंद्र देव ने अस्पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया था. इस झगड़े में पांच अन्य लोग घायल हुए थे.

मृतक के पुत्र रितेश और विनोद ने बताया कि अब आरोपियों के स्वजन और रिश्तेदार धमकी दे रहे हैं जबकि एक महिला चार नामजद अभियुक्त अभी फरार हैं. इंद्र देव मिश्रा की पत्नी प्रेमा देवी का आरोप है कि गांव के दबंग लोगों और उनके रिश्तेदारों ने घर में रहना मुश्किल कर दिया है. सुलह करने का दबाव डाला जा रहा है. ऐसा न करने पर तमाम तरह की धमकी दे रहे है. पुलिस उनकी सुरक्षा करे वरना जान का खतरा बना हुआ है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *