नवाबगंज के समहई गांव के नजदीक बृहस्पतिवार तड़के भीषण सड़क हादसे में मनोहर दास नेत्र चिकित्सालय के प्रयागराज के नेत्र सहायक मान बहादुर सिंह समेत दो की मौके पर ही मौत हो गई. हादसे में ड्राइवर समेत दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. लखनऊ से टवेरा गाड़ी अखबार लादकर प्रयागराज रही थी. ड्राइवर ने तीन सवारियों को भी बिठा लिया था.

लखनऊ से अखबार लेकर अजय सिंह टवेरा गाड़ी से रविवार देर रात प्रयागराज के लिए निकला था. उसने गाड़ी पर गोमती नगर के रहने वाले एनसीसी कर्मचारी राम विजय सिंह {51} और उनकी पत्नी गीता {48} को भी बिठा लिया था. बछरावां रायबरेली के रहने वाले मान बहादुर सिंह {52} एमडीआई प्रयागराज में नेत्र सहायक थे. उन्हें सुबह अस्पताल पहुंचना था. वे भी बछरांवा में टवेरा पर बैठ गए. सोमवार की भोर करीब साढ़े चार बजे गाड़ी लखनऊ प्रयागराज नेशनल हाइवे पर नवाबगंज क्षेत्र के समहई गांव के सामने पहुंची थी कि किसी अज्ञात वाहन से भीषण टक्कर हो गई.

हादसे में नेत्र सहाय मान बहादुर सिंह की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि चालक अजय सिंह, राम विजय सिंह और गीता गंभीर रूप से घायल हो गए. आवाज सुनकर लोग पहुंचे लेकिन जिस वाहन से टक्कर हुई थी। वह भाग निकला था. पुलिस मौके पर पहुंच गई। क्षतिग्रस्त टवेरा से घायलों को बाहर निकाला गया. तीनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां राम विजय सिंह की भी मौत हो गई. सूचना पर पहुंचे घर वाले गीता को एंबुलेंस से लखनऊ ले गए. एसआरएन हास्पिटल में चालक अजय की हालत बेहद नाजुक बनी है. पुलिस ने इस मामले टवेरा चालक के खिलाफ लापरवाही का मुकदमा दर्ज किया है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *