प्रयागराज: अतीक के दो गुर्गो के आलीशान मकान पर चला योगी का बुल्डोजर

पूर्व सांसद अतीक अहमद के दो खास गुर्गों आबिद प्रधान और अकबर के मकानों पर विकास प्राधिकरण ने गुरुवार को कारवाई कर मकान ध्वस्त कर दिया. बमरौली में एक दिन में ही दो माफियाओं के खिलाफ हुई कार्रवाई से क्षेत्र में हड़कंप मचा रहा. राजूपाल हत्याकांड के मुख्य आरोपी आबिद प्रधान के मकान की कीमत 12 करोड़ तो, हिस्ट्रीशीटर अकबर के मकान की कीमत करीब तीन करोड़ बताई जा रही है.

विकास प्राधिकरण के जोनल अधिकारी सत शुक्ला और आलोक कुमार पांडेय के नेतृत्व में पुलिस, प्रशासन और पीडीए की टीम दोपहर करीब 12 बजे बमरौली क्षेत्र के मरियाडीह में स्थित आबिद प्रधान के मकान पर पहुंची थी. मजदूरों के द्वारा पहले मकान को खाली कराया गया. इसके बाद दो जेसीबी की मदद से ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू की गई. लगभग 700 वर्ग गज में दो मंजिला मकान बनवाया गया था.

अधिकारियों के अनुसार मकान बनवाने से पहले नक्शा पास नहीं करवाया गया था. पीडीए की ओर से पूर्व में ध्वस्तीकरण का आदेश भी पारित किया गया है. शाम चार बजे तक पीडीए की टीम बमरौली में ही झपिया मोड़ के पास अकबर के मकान पर पहुंची. यहां भी मकान खाली कराने के बाद ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू हुई. शाम करीब साढ़े पांच बजे तक मकान को ध्वस्त कराया गया. करीब 250 वर्गगज में एक मंजिला मकान बनवाया गया था. इसकी कीमत करीब तीन करोड़ रुपये बताई गई है. मकान का नक्शा पास नहीं कराया गया था.

पीडीए के जोनल अधिकारी सत शुक्ला का कहना है कि आबिद प्रधान चर्चित राजू पाल हत्याकांड का मुख्य आरोपी रहा है. इसके साथ ही वह कई अन्य हत्याकांड में भी अभियुक्त रहा है. अकबर बमरौली पुलिस चौकी फूंकने का आरोपी रहा है. वह धूमनगंज थाने का हिस्ट्रीशीटर भी है.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *