इलाहाबाद विश्वविद्यालय की संविदा भर्ती विवादों के घेरे

इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) में शुक्रवार को उस समय असहज स्थिति पैदा हो गई जब एक असिस्टेंट प्रोफेसर की कथित पूर्व प्रेमिका ने जमकर हंगामा शुरू कर दिया. कुलपित व रजिस्ट्रार कार्यालय पहुंचकर भी उसने कर्मचारियों व अधिकारियों के साथ अमर्यादित व्यवहार किया. उसने अपना परिचय मध्यकालीन एवं आधुनिक इतिहास विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डाक्टर विक्रम हरिजन की पूर्व प्रेमिका और पत्नी के रूप में दिया. रजिस्ट्रार प्रोफेसर एनके शुक्ल ने विक्रम को नोटिस भेजकर 24 घंटे में स्पष्टीकरण देने को कहा है.

रजिस्ट्रार की तरफ से जारी नोटिस के मुताबिक नियमित तौर महिला रजिस्ट्रार दफ्तर पहुंचकर अभद्र व्यवहार करते हुए गालीगलौच कर रही है. विभाग के एक वरिष्ठ प्रोफेसर से जानकारी मिली कि गत मंगलवार की सुबह 10:30 बजे महिला विभाग पहुंच गई और वहां पर शोर करने के साथ गालीगलौच फिर जमकर हंगामा किया. उस वक्त विभाग में होते हुए भी डाक्टर विक्रम छिप गए और महिला के जाने के बाद सामने आए. असिस्टेंट प्रोफेसर की चुप्पी पर भी सवाल उठाते हुए महिला के आरोपों को गंभीरता से लिया गया है. नोटिस में यह भी कहा गया कि पत्नी और उनके बीच उपजे विवाद से कुलपति आवास से लेकर कुलपति व रजिस्ट्रार कार्यालय तथा विभाग में हंगामा हो रहा है. महिला ने कुलपति आवास पहुंचकर हंगामा किया और कहा कि डाक्टर विक्रम अपने इकलौते संतान का पालन-पोषण नहीं कर रहे हैं. ऐसे में नोटिस जारी कर कहा गया है कि यदि 24 घंटे में जवाब नहीं दिया जाता है तो इविवि प्रशासन सख्त कार्रवाई करेगा.

नोटिस में इन सवालों के देने होगें जवाबः

  1. क्या 22 वर्ष पूर्व डाक्टर विक्रम ने महिला से विवाह किया था?
  2. क्या दोनों के बीच एक पुत्र हैं?
  3. क्या महिला का परित्याग किया गया है?
  4. क्या महिला का शारीरिक और मानसिक शोषण किया गया है?
  5. महिला ने नाम सहित डॉ. विक्रम की तीन और पत्नियां होने का दावा किया है। क्या यह सही है?

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published.