प्रयागराज वासियों के लिए गुरुवार का दिन अच्छा रहा. बहुप्रतीक्षित मलाक हरहर से स्टैनली रोड तक गंगा पर सिक्स लेन पुल की आधारशिला व कार्य शुभारंभ किया गया. डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की मौजूदगी में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व केंद्रीय राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह वीडियो क्राफेंसिंग के जरिए जुड़े. प्रयागराज के साथ-साथ प्रदेश की 7477 करोड़ की 505 किमी लंबी 16 सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास भी किया गया. प्रयागराज के लिए सिक्स लेन पुल ही एकमात्र ऐसी परियोजना रही, जिसका कार्य शुभारंभ किया गया.
डिप्टी सीएम ने कहा कि गंगा पर सिक्स लेन पुल प्रयागराज के विकास का रास्ता खोलेगा. लखनऊ, फैजाबाद, लखनऊ, प्रतापगढ़ से दूरी और कम हो जाएगी. उन्होंने सिक्सलेन की सौगात देने के लिए केंद्रीय मंत्री गडकरी का आभार जताया. 8 मिनट के संबोधन में डिप्टी सीएम ने प्रयागराज का धार्मिक महत्व बताते हुए राम वनगमन मार्ग के जल्द निर्माण की मांग की. डिप्टी सीएम ने कहा कि रेल व नहर बनने पर जमीन की कीमत नहीं बढ़ती, लेकिन सड़क व पुल बनने से जमीन की कीमत में कई गुना इजाफा हो जाता है. उन्होंने केंद्र सरकार से यूपी की जनता के हिसाब से सड़क व हाईवे का जाल बिछाने की भी मांग की. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्रालय द्वारा बताई गईं सभी समस्याओं का निदान प्राथमिकता के आधार पर किया गया है. आगे भी इसे बरकरार रखा जाएगा. डिप्टी सीएम ने हल्दिया से प्रयागराज तक जल सौगात देने पर भी धन्यवाद दिया. कहा कि इतना कुछ देने पर प्रयागराज हमेशा ऋणी रहेगा. इस दौरान सांसद केशरी देवी, विधायक हर्षवर्धन बाजपेई, विक्रमादित्य मौर्य आदि मौजूद रहे.
सोरांव क्षेत्र के चार व सदर के पांच गांव से गुजरेगा पुल मलाक हरहर से स्टैनली रोड तक सिक्स लेन पुल 1948.25 करोड की लागत से बनेगा. इसकी लंबाई 9.90 किमी होगी. परियोजना के अंतर्गत सोरांव तहसील के चार व सदर के पांच ग्राम होंगे. तीन साल में इसके निर्माण की उम्मीद जताई जा रही है. इसके बनने से फाफामऊ में पहले से बने टू लेन के पुल पर जाम से निजात मिलेगी. इसके अलावा कुंभ, माघ व अन्य धार्मिक आयोजनों में शामिल होने वाली भीड़ के दौरान यातायात प्रबंधन में सुविधा होगी. लखनऊ, प्रतापगढ, रायबरेली, सुल्तानपुर, फैजाबाद, चित्रकूट, झांसी के साथ मध्य प्रदेश में आने-जाने में आसानी होगी.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published.