UP Board के छात्रों को हर तीन माह में देना होगा यूनिट टेस्ट

लखनऊ: यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर है. माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से दोनों कक्षाओं के बच्चों के अंकपत्र तैयार कर लिए जाने का दावा किया गया है. परिषद के अधिकारियों के अनुसार जुलाई माह के मध्य तक अंकपत्र जारी कर दिए जाएंगे. तैयार अंकपत्र परिषद द्वारा जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय भेजे जाएंगे और उसके एक सप्ताह के भीतर विद्यार्थियों को अंक पत्रों का वितरण कर दिया जाएगा.

प्रदेश के 56 लाख बच्चों का है मामलाः

एशिया का सबसे बड़ा बोर्ड कहा जाने वाला यूपी बोर्ड कोरोना काल में भी परीक्षा परीक्षा परिणाम जारी किए जाने को लेकर अन्य बोर्डों से बढ़त बनाए हुए है. विभागीय अधिकारियों का दावा है कि प्रदेश भर के करीब 56 लाख विद्यार्थियों का रिजल्ट तैयार करने का काम पूरा कर लिया गया है. जल्द ही परिणाम घोषित होंगे.

एक नजर लखनऊ पर

100553 विद्यार्थियों को मिलेंगे अंकपत्रः जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ मुकेश कुमार ने बताया कि इस वर्ष हाईस्कूल में पास होने वाले विद्यार्थियों की संख्या 50300 और इंटरमीडिएट में पास होने वाले विद्यार्थियों की संख्या करीब 50200 है. इस तरह लखनऊ में दोनो बोर्डों के कुल विद्यार्थियों की संख्या एक लाख पांच सौ है.

डेटा फीडिंग का काम हो चुका पूराः

शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अनुसार स्कूलों से बच्चों के अंकों का ब्योरा परिषद को पहले ही भेजा जा चुका है. डेटा फीडिंग का काम पूरा लगभग पूरा कर लिया गया है. अब अंकों को लेकर बनाई गई नियमावली के अनुसार अंकों के कलकुलेशन की प्रक्रिया चल रही है. माह के मध्य तक अंकपत्र की सॉफ्ट कॉपी तैयार कर परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे, वहीं, भौतिक रूप से माह के अंत तक अंक पत्र तैयार कर वितरित करा दिए जाएंगे.

अंकों की फीडिंग का काम लगभग पूरा हो चुका है. हम 15 जुलाई तक रिजल्ट जारी कर देंगे। -विनय कुमार पाण्डेय, निदेशक, माध्यमिक शिक्षा परिषद

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published.