प्रयागराजः जिले के धूमनगंज इलाके में एक व्यक्ति ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मृतक की पत्नी जब एक महीने बाद मायके से लौटी तो कमरे का मंजर देख रोने-चीखने लगी. आसपास के लोग जुटे तो पता चला कि उसकी मौत हो चुकी है. बता दें मुश्किल से ढाई महीने पहले ही उसका विवाह हुआ था. उसने किन कारणों से यह कदम उठाया, इस बारे में घर वाले कुछ नहीं बता सके.

कंधईपुर के रहने वाले नरेंद्र (30) की शादी करीब ढाई महीने पहले की गई थी. डेढ़ माह घर में रहने के बाद उसकी पत्नी अपने मायके चली गई थी. दिन में नरेंद्र ने उसे फोन किया और मायके से वापस आने के लिए कहा. रात में वह जब घर पहुंची और कमरे में गई तो सामने का नजारा देखकर दंग रह गई. नरेंद्र की लाश फंदे से लटक रही थी. वह चिल्लाने लगी तो घर के अन्य सदस्य और आसपास के लोग मौके पर पहुंचे. खबर पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंची. इंस्पेक्टर जांच पड़ताल के बाद बताया कि कमरे की तलाशी ली गई, लेकिन कोई सुसाइड नोट नहीं मिला. घरवाले भी कोई वजह नहीं बता सके, लेकिन आशंका है कि पारिवारिक कारणों से उसने यह कदम उठाया। जांच में पता चला है कि वह शादी को भी राजी नहीं था, लेकिन घरवालों के दबाव के चलते उसने विवाह कर लिया था.

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *